लॉकडाउन में बाहर जाने के लिए फिर से नहीं निकलवाना होगा, नए नियम जानें

[ad_1]

लॉकडाउन में बाहर जाने के लिए फिर से नहीं निकलवाना होगा, नए नियम जानें

बिहार में लॉकडाउन को लेकर जारी होने की अवधि 3 मई तक बढ़ा दी गई है।

पीएम नरेंद्र मोदी द्वारा लॉकडाउन (लॉकडाउन) की अवधि विस्तार की घोषणा के बाद ही आवश्यक सेवाओं के लिए जारी किए गए हैं को रिन्यूअल करने की बजाय नियमित करने का फैसला लिया गया है।

पटना। कोरोना (COVID-19) महामारी को लेकर 21 दिनों के लॉकडाउन (लॉकडाउन) की अवधि को पीएम नरेंद्र मोदी ने 3 मई तक के लिए बढ़ा दिया है। इसके मद्देनजर बिहार में लॉकडाउन के दौरान राजधानी पटना की आवश्यक सेवाओं को जारी करने के लिए जिला प्रशासन द्वारा जारी पास को 3 मई तक के लिए सार्वजनिक कर दिया गया है। इसकी जानकारी देते हुए अधिकारियों ने बताया कि इसके लिए पास रिन्यूल कराने की जरूरत नहीं है। पहले से जारी पास को ही आगामी 3 मई तक के लिए किया गया है।

लॉकडाउन की अवधि में आवश्यक सेवाएं जैसे होम नोट, मेडिकल, बैंक, नर्सिंग सहित अन्य आपातकालीन सेवाओं से जुड़े व्यक्ति इसका फायदा उठा सकते हैं। इससे पहले जिला प्रशासन द्वारा ऐसी सेवा में लगे हुए लोगों के लिए 14 अप्रैल तक के लिए पास निर्गत किया गया था, ताकि लॉकडाउन के दौरान सभी सेवाओं को सुचारू रूप से चल सके और लोगों को दैनिक जरूरत की वस्तुएं आसानी से मिल सके।

पीएम नरेंद्र मोदी द्वारा लॉकडाउन की अवधि विस्तार के साथ ही आवश्यक सेवाओं के लिए जारी किए गए हैं को रिन्यूअल करने की बजाय लक्ष्य करने का फैसला लिया गया है। इससे पहले परिवहन विभाग ने फैसला लिया था कि सरकारी वाहन और आपातकालीन सेवा में संलग्न वाहनों को छोड़कर अन्य निजी वाहन को बिना किसी आपातकालीन कारण या पास के नहीं चलेंगे। निजी वाहनों से यदि कार्यालय, बैंक, अस्पताल और अन्य अनुमति प्राप्त संस्थान और दुकान व कार्यस्थल पर जाना जरूर हो तो ऐसे सभी वाहनों के लिए निर्गत किए जाएं।

ये नियम हैंआवश्यक सेवा और पास प्राप्त व्हीहिया वाहनों के अतिरिक्त मोटरसाइकिल या स्कूटी पर डबल राइड अनुमान्य नहीं होगा। प्राप्त कार (विधि व्यवस्था और आपातकालीन कार्यों में लगे वाहनों को छोड़कर) पर ड्राइवर के अतिरिक्त अधिकतम 2 व्यक्तियों को बैठने की अनुमति होगी। निजी वाहन (मोटरसाइकिल, कार, आदि) से सब्जी, दूध, फल, राशन आदि क्रय करने के लिए जाने की अनुमति नहीं होगी। पास में प्रस्थान स्थल और सिग्नल स्थल का स्पष्ट उल्लेख किया जाना चाहिए। पास के पीछे चेकिंग के लिए एक लागाबुग प्रिन्ट बनाया जाए, जिसमें पुलिस द्वारा चेकिंग के समय तिथि, स्थान और समयिट कर पुलिस पदाधिकारी अपनी साइन करेंगे।

नियम का पालन नहीं करने पर कड़ी कार्रवाई होगी

चेकिंग के दौरान बिना उचित आधार के घूमते हुए जाने पर मोटरयान अधिनियम की धारा – 177, 179, 197, 202 के अंतर्गत कार्रवाई की जाएगी और विशेष परिस्थिति में वाहन को भी रोक दिया जा सकता है।
वाहन चालक और अन्य कर्मचारी का प्रयोग अवश्य होगा। सोशल डिस्टेंसिंग का भी ध्यान रखेंगे।

बिना फंदा के पेट्रोल पंप पर पेट्रोल नहीं मिलेगा

परिवहन सचिव संजय अग्रवाल ने निर्देश जारी करते हुए बताया था कि बिना वर्क पहने ड्राइवर व सवारी के किसी भी वाहन को पेट्रोल, डीजल की आपूर्ति नहीं की जाएगी। पेट्रोल पाइप पर प्रतिनियुक्त कर्मी भी मुख का प्रयोग निश्चित रूप से करेंगे। साथ ही पेट्रोल पाइप पर सेनिटाइजर की भी व्यवस्था सुनिश्चित करायी जाए।

ये भी पढ़ें-

बिहार: निजी वाहन नहीं चलेंगे, जानें क्या-क्या नियम लागू होंगे

News18 हिंदी सबसे पहले हिंदी समाचार हमारे लिए पढ़ना यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर । फोल्ट्स। देखिए पटना से संलग्न लेटेस्ट समाचार।

प्रथम प्रकाशित: 14 अप्रैल, 2020, शाम 5:27 बजे IST


इस दिवाली बंपर अधिसूचना
फेस्टिव सीजन 75% की एक्स्ट्रा छूट। केवल 289 में एक साल के लिए सब्सक्राइब करें करें मनी कंट्रोल प्रो।कोड कोड: DIWALI ऑफ़र: 10 नवंबर, 2019 तक

->



[ad_2]

Source link