अंबेडकर जयंती: वोट बैंक का दांव जीतने के लिए सबने चली बाजी, लॉकडाउन में दफ्तर खोल फाउल कर गया RJD

[ad_1]

अंबेडकर जयंती: वोट बैंक का दांव जीतने के लिए सबने चली बाजी, लॉकडाउन में दफ्तर खोल फाउल कर गया RJD

आरजेडी दफ्तर में डॉ भीमराव अंबेडकर को पुष्पक समर्पित करते हुए पार्टी कार्यकर्ता।

बिहार विधानसभा चुनाव (बिहार विधानसभा चुनाव) को धयान में रखते हुए सभी राजनैतिक दलों (राजनीतिक दलों) ने अपने-अपने तरीके से डॉ। भीमराव अंबेडकर जयंती (डॉ। भीमराव अंबेडकर जयंती) बनाई गई है।

पटना। कोरोना की त्रासदी (कोरोना की त्रासदी) में जब पूरा देश इस महामारी से जंग लड़ रहा है, ऐसे समय में भी सियासी लोग राजनीति करने से बाज नहीं आ रहे हैं। बीजेपी हो आरजेडी (आरजेडी) या फिर जीतनराम मांझी, सबको आज अपने वोटबैंक की चिंता है, उन्हें कोई मौका मिलना चाहिए। बिहार में इसी साल विधानसभा के चुनाव होने हैं, ऐसे में अंबेडकर की जयंती (अम्बेडकर जयंती) के बहाने सियासी पार्टियां दलितों को लुभाने में जुट गए हैं।

वैसे ही चुनावी वर्ष में अंबेडकर जयंती के सियासी हलकों में क्या मायने हैं, शायद ये बताने की जरूरत भी नहीं है। बात अगर दलित वोटबैंक की हो तो फिर कोई भी पार्टी इसे भुनाने में कहीं पीछे नहीं रहती। आज डॉ। भीमराव अंबेडकर की जयंती (डॉ। भीमराव अंबेडकर की जयंती) मनाई जा रही है, ऐसे में बिहार की सारी सियासी पार्टियों ने आज उन्हें श्रद्धांजलि देते हुए उन्हें याद किया और दलित समाज में मैसेज देने की कोशिश भी की।

लॉक डाउन का असर, माइनस अंबेडकर जयंती

बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष संजय जायसवाल ने अपने घर में ही डॉ। भीमराव अंबेडकर के तैलचित्र पर माल्यार्पण किया और वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिये लोगों के बीच भीमराव अंबेडकर को याद किया। कुछ इसी तरह से बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जीतनराम मांझी ने भी संविधान निर्माता डॉ। भीमराव अंबेडकर को याद करते हुए उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की। इस मौके पर मांझी ने कहा कि पिछड़ों-दलितों के लिए अंबेडकर भगवान से कम नहीं है। हालांकि लालू यादव की पार्टी ने अंबेडकर जयंती के मौके पर सबसे एक कदम आगे बढ़ते हुए लॉकडाउन की लक्ष्मण रेखा भी पार कर दी।आरजेडी पर लगा लॉकडाउन उलीलिंग का आरोप

अंबेडकर जयंती के मौके पर लंबे समय के बाद आज आरजेडी दफ्तर खोला गया और उनकी ताइलचित्र पर माल्यार्पण किया गया। हालांकि इस मौके पर पार्टी के बड़े नेता तो नदारद रहे, लेकिन लॉकडाउन में आरजेडी का दफ्तर खोलकर जयंती समारोह मनाने पर बीजेपी ने तंज कसा है। बीजेपी प्रवक्ता निखिल आनन्द ने कहा है कि आरजेडी दलित प्रेम और अंबेडकर की विचारधारा की बात करके केवल ढोंग करता है। अंबेडकर जयंती के नाम पर आरजेडी केवल वोटबैंक की राजनीति करती है। पार्टी दफ्तर में अंबेडकर जयंती मनाकर आरजेडी ने लाकडाउन का भी उलटना किया है।

आरजेडी की सफाई, हमने नहीं लांघी लक्ष्मण रेखा

अंबेडकर जयंती को लेकर सियासत जोरों पर है। ऐसे में, आरजेडी पर बीजेपी के आरोपों को लेकर पार्टी के प्रवक्ता मृत्युंजय तिवारी ने सफाई देते हुए कहा कि हमारी पार्टी ना तो कोई वोटबैंक की राजनीति कर रही है और ना ही हमने कोई लाकडाउन का उलटफेर ही किया है। लॉकडाउन और सोशल डिस्टनसिंग का पूरी तरह से अनुपालन करते हुए पार्टी के केवल दो पदाधिकारियों ने ही पार्टी दफ्तर में डॉ भीमराव अंबेडकर के तैलचित्र पर माल्यार्पण किया है।

यह भी पढ़ें:

कोविद -19: मुंबई में आधी मौतें जांच या भर्ती में देरी होने से हुईं, अस्पतालों के चक्कर काटते रहे
लॉकडाउन की दुश्वारियों के बीच बेटियाँ बनीं बेसहारों का सहारा
जैश के कई आतंकवादियों के साथ कोरोना, पाकिस्तान ने इलाज करने से किया इनकार

News18 हिंदी सबसे पहले हिंदी समाचार हमारे लिए पढ़ना यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर । फोल्ट्स। देखिए पटना से संलग्न लेटेस्ट समाचार।

प्रथम प्रकाशित: 15 अप्रैल, 2020, 1:21 PM IST


इस दिवाली बंपर अधिसूचना
फेस्टिव सीजन 75% की एक्स्ट्रा छूट। केवल 289 में एक साल के लिए सब्सक्राइब करें करें मनी कंट्रोल प्रो।कोड कोड: DIWALI ऑफ़र: 10 नवंबर, 2019 तक

->



[ad_2]

Source link